Khatu Shyam Ji Bhajan Lyrics

आज हम आपके लिए खाटू श्याम जी बाबा के भजन की लिरिक्स लेकर आए हैं| साथ ही खाटू श्याम जी के भजन की लिरिक्स की पीएफ भी यहां दी है| यदि आप बाबा के भजन के लिरिक्स पढ़ना चाहते हो तो आप सही जगह पर आए हो|

खाटू श्याम जी, भगवान श्री कृष्ण के अवतारी है| उनकी भक्ति करने पर सभी मनोकामनाएं पूरी हो जाती है| भक्तगण भक्ति करने के लिए, खाटू श्याम जी के भजन का स्मरण करते हैं| इसीलिए खाटू श्याम जी बाबा के सभी भक्तगणों के लिए, उनके भजनों की लिरिक्स और पीडीएफ इस लेख में दे रहे हैं|

आज इस लेख में, खाटू श्याम जी बाबा के बेस्ट 10 भजनों की हिंदी लिरिक्स दी हुई है| आप चाहे तो इन भजन लिरिक्स की PDF भी डाउनलोड कर सकते हो| तो चलिए शुरू करते हैं- बाबा के भजनों का स्मरण|

Details of Khatu Shyam Ji Bhajan

भजन पीडीएफ का नामखाटू श्याम जी के भजन लिरिक्स
भजनों की संख्या10
भाषा हिंदी
डाउनलोड लिंकयहां क्लिक करें

Bhajan Lyrics PDF

Khatu-Shyam-Baba-Bhajan-bestpdf.in_.pdf

×

Best 10 Khatu Shyam Ji Bhajan Lyrics

खाटू श्याम जी बाबा के भक्तों के लिए बेस्ट 10 भजन की लिरिक्स यहां पर दे रहे हैं| जिनका स्मरण और गुणगान करके सभी परेशानियां और विपत्तियों से मुक्ति की प्राप्ति की जा सकती है| यदि आप भजन की लिरिक्स बाद में पढ़ना चाहते हो तो ऊपर दी हुई पीडीएफ डाउनलोड कर सकते हो|

1. हारा हूँ बाबा पर तुझपे भरोसा है भजन लिरिक्स

हारा हूँ बाबा बस तुझ पर ही भरोसा है,

जीतूँगा एक दिन, मेरा दिल कहता है यह,

मेरे माँझी बन जाओ, मेरी नाँव चला दो,

इस बेटे को बाबा खाटू श्याम, तुम गले लगा लो ,

हारा हूँ बाबा बस तुझ पर ही भरोसा है,

जीतूँगा एक दिन, मेरा दिल ये कहता है यह।

मैंने सुना है तू दुख दर्द मिटाता,

बिन बोले भक्तों की बिगड़ी बात बनाता,

बिन बोले भक्तों की बिगड़ी बात बनाता,

मिलता नहीं किनारा है,

नहीं कोई और सहारा है,

हारा हूँ बाबा बस तुझ पर ही भरोसा है,

जीतूँगा एक दिन, मेरा दिल कहता है यह है।

तुमसे ही जीवन मेरा, ओ मेरे खाटू श्याम बाबा,

कैसे चलेगा कुछ समझ ना आता,

कैसे चलेगा कुछ समझ ना आता,

तुम साहस बंधाते हो, तो साँसे चलती है,

मुझे समझ नहीं आता है, मेरी क्या ग़लती है,

हारा हूँ श्याम बाबा बस तुझ पर ही भरोसा है,

जीतूँगा में एक दिन, मेरा दिल ये कहता है।

परिवार मेरा, तेरे गुण है गाता है ,

दोषी तो मैं हूँ उन्हें क्यों सताता हूं,

दोषी तो मैं हूँ उन्हें क्यों सताता हूं,

उन्हें तुझ पर ही भरोसा है, तूने पाल पोस है ,

हारा हूँ श्याम बाबा बस तुझ पर ही भरोसा हैं,

जीतूँगा एक दिन, मेरा दिल ये कहता है।

हारा हूँ बाबा बस तुझ पर ही भरोसा है,

जीतूँगा एक दिन, मेरा दिल ये कहता है,

मेरे माँझी बन जाओ, मेरी नौका चला जाओ,

बेटे को बाबा श्याम, तुम गले लगा जाओ,

हारा हूँ बाबा बस तुझ पर ही भरोसा है,

जीतूँगा एक दिन, मेरा दिल ये कहता है।

2. जिस के घर में खाटू वाले की तस्वीर लगाई जाती है भजन लिरिक्स

जिस के घर में श्याम बाबा खाटू वाले की तस्वीर लगाई जाती है,

जिस परिवार में नीले वाले की हमेशा जोत जगाई जाती है,

जिस परिवार का छोटा बच्चा भी श्री खाटू श्याम की माला जपता है,

वहा बाबा श्याम का पेहरा रहता है।

पता लगा लो उस परिवार की कहानी,

जान के होगी सब को हैरानी,

उस परिवार के सरे दुखडो को बाबा श्याम हमेशा सहता है,

वहा खाटू श्याम का पेहरा रहता है।

करे हिफाजत ये पुरे परिवार की,

इसके होते क्या बात है डर की,

जब सारा परिवार सो जाता है,

मेरा खाटू श्याम जगता रहता है,

वहा बाबा श्याम का पेहरा रहता है।

खूब संभाले सदा निभाए,

छोड़ के परिवार वो कही न जाये,

कहे पवन गुण गान बाबा श्याम का यहाँ चलता रहता है,

वहा खाटू श्याम जी का पेहरा रहता है।

3. ग्यारस चांदण की आई भगता मिल ज्योत जगाई भजन लिरिक्स

ग्यारस चांदण की आई,

भगता मिल ज्योत जगाई,

झांझ मज़ीरा बाजे आंगणे,

ओ बाबा झांझ मज़ीरा बाजे आंगणे,

मन में हरियाली छाई,

भगता मिल ज्योत जगाई,

झांझ मज़ीरा बाजे आंगणे,

ओ बाबा झांझ मज़ीरा बाजे आंगणे ॥

चम चम चमकातो मुखडो,

काना में कुंडल हो,

काना में कुंडल हो,

हिवड़ो हुलसायो म्हारो,

भला पधारया हो,

भला पधारया,

हीरो भलके माथे में,

अंतर जमके बागे में,

फुल्डा बरसे छे म्हारे आंगणे,

ओ बाबा फुल्डा बरसे छे म्हारे आंगणे,

ग्यारस चांदण की आईं,

भगता मिल ज्योत जगाई,

झांझ मज़ीरा बाजे आंगणे,

ओ बाबा झांझ मज़ीरा बाजे आंगणे ॥

गंगाजल झारी थारा,

चरण पखारा हो,

चरण पखारा,

उँचे सिंहासन बैठो,

आरती उतारा हो,

आरती उतारा,

भजन सुनावा थाने,

गाकर रिझावा थाने,

अमृत बरसे छे म्हारे आंगणे,

ओ बाबा अमृत बरसे छे म्हारे आंगणे,

ग्यारस चांदण की आईं,

भगता मिल ज्योत जगाई,

झांझ मज़ीरा बाजे आंगणे,

ओ बाबा झांझ मज़ीरा बाजे आंगणे ॥

जो थाने भावे बाबा,

भोग लगावा हो,

भोग लगावा,

रूच रूच जिमो प्रभु जी,

परदो लगावा हो,

परदो लगावा,

तारो मुलक़ातो मुखड़ो,

चंदा सू लागे उजलो,

कीर्तन में देखयो थाने आंगणे,

ओ बाबा कीर्तन में देखयो थाने आंगणे,

ग्यारस चांदण की आईं,

भगता मिल ज्योत जगाई,

झांझ मज़ीरा बाजे आंगणे,

ओ बाबा झांझ मज़ीरा बाजे आंगणे ॥

बिडलो दबावों मुख में,

अंतर काना में हो,

अंतर काना में,

थारे लीले के पांवा,

बिछिया बाजनीया हो,

बिछिया बाजनीया,

करस्यां पहरावणी थारी,

आशा पूरण म्हारी,

चरण दबास्या म्हारे आंगणे,

ओ बाबा चरण दबास्या म्हारे आंगणे,

ग्यारस चांदण की आईं,

भगता मिल ज्योत जगाई,

झांझ मज़ीरा बाजे आंगणे,

ओ बाबा झांझ मज़ीरा बाजे आंगणे ॥

लगन निभाजो प्रभु जी,

प्रेम बढाजो हो,

प्रेम बढाजो,

या म्हारी मिनखा जूणी,

सफल बनाजो हो,

सफल बनाजो,

मोती चरणा को चाकर,

नंदू रिझावे गाकर,

भल भल पधारया म्हारे आंगणे,

ओ बाबा भल भल पधारया म्हारे आंगणे,

ग्यारस चांदण की आईं,

भगता मिल ज्योत जगाई,

झांझ मज़ीरा बाजे आंगणे,

ओ बाबा झांझ मज़ीरा बाजे आंगणे ॥

ग्यारस चांदण की आई,

भगता मिल ज्योत जगाई,

झांझ मज़ीरा बाजे आंगणे,

ओ बाबा झांझ मज़ीरा बाजे आंगणे,

मन में हरियाली छाई,

भगता मिल ज्योत जगाई,

झांझ मज़ीरा बाजे आंगणे,

ओ बाबा झांझ मज़ीरा बाजे आंगणे ॥

गर श्याम से मिलना है एक बात समझ लेना,

एक बात समझ लेना,

हारे का साथी है,

सदा हार के तू रहना ॥

म्हारे सिर पे है बाबा जी रो हाथ लिरिक्स

म्हारे सिर पर है,

बाबा जी रो हाथ,

खाटु वाले रो हाथ,

कोई तो म्हारो कई करसी ॥

जे कोई म्हारे श्याम धणी ने,

साँचे मन से ध्यावे

काल कपाल भी साँवरिये के,

भगता से घबरावे,

जे कोई पकड़यो है,

बाबा जी रो हाँथ

कोई तो बाको कई करसी,

म्हारे सिर पर हैं,

बाबा जी रो हाथ,

कोई तो म्हारो कई करसी ॥

जो आपे बिस्वास करे वो,

खूंटी ताण के सोवे,

बठे प्रवेश करे ना कोई,

बाल ना बांको होवे,

जाके मन में नहीं है विस्वास,

बाको तो बाबो कई करसी,

म्हारे सिर पर हैं,

बाबा जी रो हाथ,

कोई तो म्हारो कई करसी ॥

कलयुग को यो देव बड़ो,

दुनिया में नाम कमायो,

जद जद भीड़ पड़ी भगता पर,

दौड्यो दौड्यो आयो,

यो तो घट घट की जाणे सारी बात,

कोई तो म्हारो कई करसी,

म्हारे सिर पर हैं,

बाबा जी रो हाथ,

कोई तो म्हारो कई करसी ॥

म्हारे सिर पर है,

बाबा जी रो हाथ,

खाटु वाले रो हाथ,

कोई तो म्हारो कई करसी ॥

नैया है मझधार श्याम इसे पार लगा जाओ लिरिक्स

नैया है मझधार श्याम इसे,

पार लगा जाओ,

ओ लीले असवार दयालु,

जल्दी आ जाओ,

आ जाओ प्रभु आ जाओ प्रभु,

लीले चढ़ के आ जाओ ॥

नैया मेरी डूब रही है,

केवट बैठा है चुपचाप,

मेरी बर्बादी की लीला,

कैसे देख रहे हो आप,

क्यों करते इंकार,

मुझे यह भेद बता जाओ।

ओ लीले असवार दयालु,

जल्दी आ जाओ,

नैया है मझधार ॥

तूफानों से लड़ते-लड़ते,

हार गया है दास तेरा,

तुझपर दारमदार प्रभु अब,

टूटे ना विश्वास मेरा,

संभालो पतवार,

भँवर से इसे बचा जाओ।

ओ लीले असवार दयालु,

जल्दी आ जाओ,

नैया है मझधार ॥

बीच भँवर में दूजा केवट,

श्याम कहां से लाऊं मैं,

तुझ बिन रक्षा हो नहीं सकती,

कितना भी चिल्लाऊं मैं,

तेरा ही आधार,

प्रभु मोहे धीर बंधा जाओ।

ओ लीले असवार दयालु,

जल्दी आ जाओ,

नैया है मझधार ॥

दीनदयालु नाम तुम्हारा,

नाम की लाज रखो सरकार,

थोड़ी सी अगर किरपा करो तो,

हो जाएगा बेड़ा पार,

‘बिनू’ है लाचार,

प्यार अपना बरसा जाओ।

ओ लीले असवार दयालु,

जल्दी आ जाओ,

नैया है मझधार ॥

नैया है मझधार श्याम इसे,

पार लगा जाओ,

ओ लीले असवार दयालु,

जल्दी आ जाओ,

आ जाओ प्रभु आ जाओ प्रभु,

लीले चढ़ के आ जाओ ॥

बाबा जब भी जिसने तेरा नाम पुकारा है लिरिक्स

बाबा जब भी जिसने,

तेरा नाम पुकारा है,

तूने तूने उस जीवन को,

हाथों से संवारा है,

बाबा जब भी जिसने,

तेरा नाम पुकारा है ॥

सब कुछ पाया मैंने,

तुमसे मेरे श्याम धणी,

रहे किरपा तेरी बाबा,

हम पर यूँ बहुत घणी,

बिन तेरी किरपा बाबा,

हमें कुछ ना गवारा है,

तूने तूने उस जीवन को,

हाथों से संवारा है,

बाबा जब भी जिसने,

तेरा नाम पुकारा है ॥

जब कोई ना था मेरा,

तुझको पाया मैंने,

कितने ही तूफानों के,

मुँह मोड़ दिये तूने,

मैं गर्व से कहता हूँ,

बाबा श्याम हमारा है,

तूने तूने उस जीवन को,

हाथों से संवारा है,

बाबा जब भीं जिसने,

तेरा नाम पुकारा है ॥

तू जबसे मिला मुझको,

आसान हुआ जीवन,

जीने का मजा आया,

दुःख भूल गया भगवन,

तू ही आधार मेरा,

और तू ही सहारा है,

तूने तूने उस जीवन को,

हाथों से संवारा है,

बाबा जब भीं जिसने,

तेरा नाम पुकारा है ॥

मैं कुछ नहीं दे सकता,

तुझे श्याम प्रभु मेरे,

तेरा नाम जो लेता हूँ,

सम्भ नहीं बिन तेरे,

तुझसे ही ये सांसे है,

सांसो से तू प्यारा है,

तूने तूने उस जीवन को,

हाथों से संवारा है,

बाबा जब भीं जिसने,

तेरा नाम पुकारा है ॥

बाबा जब भी जिसने,

तेरा नाम पुकारा है,

तूने तूने उस जीवन को,

हाथों से संवारा है,

बाबा जब भी जिसने,

तेरा नाम पुकारा है ॥

सांवरा जब मेरे साथ है लिरिक्स

सांवरा जब मेरे साथ है,

हमको डरने की क्या बात है ।

इसके रहते कोई कुछ कहे,

बोलो किसकी यह औकात है ॥

छाये काली घटाए तो क्या,

इसकी छतरी के नीचे हूँ मैं ।

आगे आगे यह चलता मेरे,

मेरे मालिक के पीछे हम मैं ।

इसने पकड़ा मेरा हाथ है,

मुझको डरने की क्या बात है ॥

इसकी महिमा का वर्णन करू,

मेरी वाणी में वो दम नहीं ।

जब से इसका सहारा मिला

फिर सताए कोई गम नहीं ।

बाबा करता करामत है

हमको डरने की क्या बात है ॥

क्यों मैं भटकू यहाँ से वहां

इसके चरणों में है बैठना ।

झूठे स्वार्थ के रिश्ते सभी,

कहना से है रिश्ता बना ।

ये करता मुलाकात है,

हमको डरने की क्या बात है ॥

जहां आनद की लगती झड़ी,

ऐसी महफ़िल सजता है ये ।

‘बिन्नू’ क्यों ना दीवाना बने,

ऐसे जलवे दिखता है ये ।

दिल चुराने में विख्यात है,

हमको डरने की क्या बात है ॥

डाकिया जा रे श्याम ने संदेशो दीजे लिरिक्स

(सेठ डाकिया से )

डाकिया जा रे,

श्याम ने संदेशो दीजे,

श्याम ने जायत कह दीजे,

भगत थारे दर्शन ने तरसे,

डाकिया जा रे ॥

(डाकिया सेठ से )

कुण से गाँव थारो श्याम बस्यो है,

इतनो म्हाने बता दे, सेवक रे….

गर तेरे पास है कोई निशानी,

म्हाने तू दिखला दे,

कईया जानूंगा पिचान,

मैं हूँ छोरो अनजान,

कईया श्याम स्यु होसी मिलन,

डाकिया जा रे ॥

(सेठ डाकिया से)

खाटू में है श्याम जी को मंदिर,

शिखर ध्वजा लहरावे, डाकिया ओ,,

ड्योढ़ी पर हनुमान बिराजे,

सेवक चंवर ढुलावे,

वांके नौबत बाजे द्वार,

गूंजे हरदम जय जयकार,

सजधज बैठ्यो है श्याम सजन,

डाकिया जा रे ॥

पहुंच गयो दरबार श्याम के,

बोलण लागो संदेसो, बाबा ओ,,

बण बैठ्यो कद श्याम दीवानो,

कुछ ना रह्यो अंदेशो,

आंखड़ल्या सु बरसी धार,

जईया सावण की फुहार,

देख सांवरिया बोल्यो यो वचन,

डाकिया जा रे ॥

( बाबा डाकिया से)

कह दीजे तू जाए सेवक ने,

तेरो बुलावो आसी, सेवक रे,,

सबकी आस पुराऊँ हूँ तो,

तू कईया रह पासी,

तेरी सारी जाणु बात,

पूरी करस्यूँ मन की आस,

पर बढ़ा मेरे कानि कदम,

डाकिया जा रे ॥

चिठ्ठी आई है आई है,

चिठ्ठी आई है,

चिठ्ठी आई है खाटू से,

चिठ्ठी आई है,

बड़े दिनों के बाद,

मेरे श्याम धणी को आज,

भगत की याद सताई है,

चिठ्ठी आई है आई है,

चिठ्ठी आई है ॥

(डाकिया सेठ से)

सुण संदेसो सांवरिये को,

मनड़ो घणो हर्षायो, बाबा ओ,,

बंध गया पाँव में घुंघरिया सा,

मन को मोरियो गायो,

म्हारो श्याम बड़ो दिलदार,

हो जाओ लेवण ने तैयार,

महिमा गावे है ‘कमल-किशन’,

डाकिया जा रे ॥

डाकिया जा रे,

श्याम ने संदेशो दीजे,

श्याम ने जायत कह दीजे,

भगत थारे दर्शन ने तरसे,

डाकिया जा रे ॥

हारे के सहारे आजा तेरा दास पुकारे आजा लिरिक्स

हारे के सहारे आजा,

तेरा दास पुकारे आजा,

हम तो खड़े तेरे द्वार,

सुनले करुण पुकार,

हारें के सहारे आजा,

तेरा दास पुकारे आजा ॥

लाख चाहू मगर,

बात बनती नहीं, क्या करूँ,

नाव भटके मेरी,

पार लगती नहीं, क्या करूँ,

कैसे नैया होगी पार,

टूट गयी पतवार, ओ श्याम,

अब हाथ तू आके, लगा जा,

कैसे नैया होगी पार,

टूट गयी पतवार, ओ श्याम,

अब हाथ तू आके, लगा जा,

हम तो खड़े तेरे द्वार,

सुनले करुण पुकार,

हारें के सहारे आजा,

तेरा दास पुकारे आजा,

हारे के सहारे आजा,

तेरा दास पुकारे आजा ॥

आओ श्याम आओ श्याम

आओ श्याम आओ श्याम,

हारे के सहारे आजा,

तेरा दास पुकारे आजा,

हम तो खड़े तेरे द्वार,

सुनले करुण पुकार,

हारें के सहारे आजा,

तेरा दास पुकारे आजा ॥

कोई सुनता नहीं,

मैं सुनाऊ किसे, ये बता,

कोई सुनता नहीं,

सुनाऊ किसे, ये बता,

दर्द दिल का भला,

मैं दिखाऊ किसे, ये बता,

तेरे होते मेरी हार,

कैसे होगी सरकार,

तेरे होते मेरी हार,

कैसे होगी सरकार,

एक बार तू धीर बंधा जा,

हम तो खड़े तेरे द्वार,

सुनले करुण पुकार,

हारें के सहारें आजा,

तेरा दास पुकारे आजा,

हारे के सहारें आजा,

तेरा दास पुकारे आजा ॥

है भरोसा तेरा,

अब सहारा तेरा, साँवरे,

अब सहारा तेरा, साँवरे,

तेरे चरणों में है,

अब गुजारा मेरा, साँवरे,

गंभीर ईक बार,

आजा लीले पे सवार,

हो मेरे श्याम ईक बार,

आजा लीले पे सवार

आके मोर छड़ी लगाजा

हम तो खड़े तेरे द्वार,

सुनले करुण पुकार,

हारें के सहारें आजा,

तेरा दास पुकारे आजा,

हारे के सहारें आजा,

तेरा दास पुकारे आजा ॥

हारे के सहारे आजा,

तेरा दास पुकारे आजा,

हम तो खड़े तेरे द्वार,

सुनले करुण पुकार,

हारें के सहारे आजा,

तेरा दास पुकारे आजा ॥

मेरी लाज रखना तेरी शरण में आया मैं बाबा हाथ रखना लिरिक्स

मेरी लाज रखना,

मेरी लाज रखना,

तेरे द्वारे आया मैं बाबा,

तेरी शरण में आया मैं बाबा,

मैरी लाज रखना मेरी लाज रखना ॥

तू है दाता और मैं हूँ भिखारी,

कैसे निभेगी अपनी यारी,

बनके भिखारी आया मैं बाबा,

बनके भिखारी आया मैं बाबा,

झोली भरना,

मैरी लाज रखना,

मैरी लाज रखना,

तेरे द्वारे आया मैं बाबा,

तेरी शरण में आया मैं बाबा,

मैरी लाज रखना मेरी लाज रखना ॥

अपने दर पे देना ठिकाना,

बुरे करम से मुझे बचाना,

बनके सवाली आया मैं बाबा,

बनके सवाली आया मैं बाबा,

मैरी लाज रखना,

मैरी लाज रखना,

तेरे द्वारे आया मैं बाबा,

तेरी शरण में आया मैं बाबा,

मैरी लाज रखना मेरी लाज रखना ॥

हाथ जोड़कर तुम्हे मनाऊं,

आँख के आंसू भेंट चढ़ाऊँ,

बनवारी इन्हे मोती समझ,

बनवारी इन्हे मोती समझ,

स्वीकार करना,

मैरी लाज रखना,

मैरी लाज रखना,

तेरे द्वारे आया मैं बाबा,

तेरी शरण में आया मैं बाबा,

मेरी लाज रखना मेरी लाज रखना ॥

मेरी लाज रखना,

मेरी लाज रखना,

तेरे द्वारे आया मैं बाबा,

तेरी शरण में आया मैं बाबा,

मैरी लाज रखना मेरी लाज रखना ॥

Conclusion

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *